Latest News
18 March 2019

चुनाव आते ही देश पर मंडराने लगता है खतरा: जयंत चौधरी

कैडवा गांव में आयोजित किसान-मजदूर सम्मेलन में रागिनी कलाकारों ने जमकर ठुमके लगाए। सम्मेलन में भीड़ इकट्ठा करने के लिए आयोजकों ने रागिनी कलाकारों का भी सहारा लिया। जिनके गानों को सुनने के लिए भीड़ सम्मेलन स्थल पर रुकी रही। वहीं बीच-बीच में रागिनी कलाकारों ने ठुमके लगाकर लोगों का मनोरंजन *भी किया। .

बालैनी/चांदीनगर | हिटी.आयोजित सम्मेलन में मंच पर बैठे जयंत चौधरी के साथ पप्पू गुर्जर। ' हिन्दुस्तान.

रालोद के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष व लोकसभा प्रत्याशी जयंत चौधरी ने रविवार को कैडवा व सहबानपुर गांव में आयोजित किसान-मजदूर सम्मेलन में केंद्र सरकार पर खूब तंज कसे। उन्होंने कहा कि चुनाव आते ही केंद्र सरकार को देश पर खतरा दिखाई देने लगता है। ऐसा लगता है कि देश पर खतरा मंडराने लगा है। उन्होंने भाजपा सरकार को जूमलों की सरकार बताया। उन्होंने कहा कि भाजपा सरकार में किसान-मजदूर से लेकर सभी वर्ग दुखी है। .

कैड़वा गांव में आयोजित किसान- मजदूर सम्मेलन में पहुंचे रालोद उपाध्यक्ष व गठबंधन प्रत्याशी जयंत चौधरी का लोगों ने फूल-मालाओं से स्वागत किया। जहां उन्होंने भाजपा सरकार पर जमकर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि भाजपा सरकार झूठी है। भाजपा शासन में गाय को माता की संज्ञा दी गई, लेकिन उनकी व्यवस्था कराने में सरकार पूरी तरह फेल है, जिससे किसान वर्ग बर्बादी की कगार पर पहुंच गया है। उन्होंने चौकीदार शब्द पर तंज कसते हुए कहा कि चौकीदार तो नेपाल से भी ला सकते है हमे तो प्रधानमंत्री चाहिये। .

वहीं सहबानपुर गांव में सम्मेलन को संबोधित करते हुए जयंत चौधरी ने कहा कि चुनाव आते ही दंगा कराने की प्लानिंग शुरू हो जाती है। भाजपा में चुनाव लड़ने के लिए केवल दंगे कराने की योग्यता देखी जाती है। उन्होंने भाजपा पर सांप्रदायिकता की राजनीति करने का आरोप लगाया। केंद्र की राजनीति से देश में गरीबी, महंगाई, बेरोजगारी बढ़ रही है, जिसका कोई समाधान नहीं कराया गया। .

उन्होंने आगामी चुनाव में गठनबंधन को वोट देने की अपील की। इस दौरान राज्यसभा सांसद सुरेंद्र नागर, पूर्व सिंचाई मंत्री डा. मैराजूद्दीन,सपा नेता अतुल प्रधान, रालोद जिलाध्यक्ष सुखबीर गठीना, सपा जिलाध्यक्ष मनोज चौधरी, बसपा जिलाध्यक्ष जयकुमार जाटव, धीरज उज्ज्वल, चंदन चौहान, शोकेन्द्र तोमर, वीरपाल राठी, संदीप बादल, राजकिशोर, अजय, प्रधान डालचंद, ध्यान सिंह, अजित सिंह यादव, अजय तोमर, जुनैद फरीदी, मुकेश यादव, अशोक यादव, हरिभगवान यादव, *रेखा यादव, अभयवीर यादव आदि मौजूद रहे। .

कैडवा गांव में आयोजित किसान-मजदूर सम्मेलन में रागिनी कलाकारों ने जमकर ठुमके लगाए। सम्मेलन में भीड़ इकट्ठा करने के लिए आयोजकों ने रागिनी कलाकारों का भी सहारा लिया। जिनके गानों को सुनने के लिए भीड़ सम्मेलन स्थल पर रुकी रही। वहीं बीच-बीच में रागिनी कलाकारों ने ठुमके लगाकर लोगों का मनोरंजन *भी किया। .

आयोजित सम्मेलन में मंच पर बैठे जयंत चौधरी के साथ पप्पू गुर्जर। ' हिन्दुस्तान.

News Source : http://epaper.livehindustan.com/imageview_162833_103600140_4_51_18-03-2019_i_4.pagezoomsinwindows.php