Press Releases
18 December 2018

18th Dec 2018 - राष्ट्रीय लोक दल

18 दिसम्बर 2018

 

प्रकाशनार्थ

 
लखनऊ 18 दिसम्बर। राष्ट्रीय लोकदल के राष्ट्रीय सचिव ओंकार सिंह ने पत्रकारों को सम्बोधित करते हुये कहा कि वर्ष 2014 में झूठ की बुनियाद पर बनी केन्द्र की भाजपा सरकार ने प्रत्येक स्तर पर झूठ का सहारा लिया है। देष के बेरोजगार नौजवानों को 2 करोड नौकरियां प्रतिवर्ष देने का वादा करने वाले घोषणा पत्र को भाजपा ने ही रददी की टोकरी में डाल दिया है। किसानों की भलाई के लिए स्वामीनाथन आयोग की रिपोर्ट लागू करने का वादा केवल षिगूफा बनकर रह गया उल्टे किसान को खाद, बीज और सिचाई आदि मंहगे रेटों पर सम्पन्न हो सकी। विगत पांच राज्यों में हुये विधान सभा चुनाव 2019 लोकसभा चुनाव का सेमिफाइनल था जिसमें उन प्रदेषों की जनता ने जो परिणाम दिया है वह भाजपा की लोकप्रियता का अच्छा दर्पण है। 
श्री सिंह ने कहा कि केन्द्र के ही रास्ते पर चलने वाली उ0प्र0 की योगी सरकार अपनी कार्यषैली में ही झूठ का सहारा ले रही है जिसका स्पष्ट प्रमाण सुपर स्पेषिलिटी बाल चिकित्सालय एवं परास्नातक शैक्षिक संस्थान नोएडा में तैनात चिकित्सा अधीक्षक डाॅ0 शेखर यादव हैं। जिनके प्रतिनियुक्ति के कार्यकाल में वर्ष 2013 से अनेको मासूमों ने छठी मंजिल से कूदकर जान दे दी। करीब 6 माह पहले एक गर्भवती महिला ने भी संस्थान की छठी मंजिल से कूदकर जान दे दी। इस प्रकार की शर्मनाक घटनाओं का चिकित्सा अधीक्षक डाॅ0 शेखर पर कोई भी प्रभाव नहीं पड रहा है कर्मचारी त्रस्त है करोडों रूपये का फर्जी खर्च दिखाकर अधीक्षक मौज कर रहा है। उसकी लिखित षिकायत प्रदेष के मुख्यमंत्री (सन्दर्भ संख्या-121157180227498) और महामहिम राज्यपाल महोदय को भी की गयी जिस पर उसका स्थानान्तरण डेढ माह पहले कर सहारनपुर भेजा गया है लेकिन अब तक डाॅ0 शेखर धनबल और बाहुबल के आधार पर उसी स्थान पर बने हुये है। बरेली स्थिति बदायूं रोड पर प्राइवेट हास्पिटल नर्सिंग होम मेधांस में नाबालिक बालिका इलाज कराने के लिए भर्ती हुयी थी हास्पिटल के पांच कर्मचारियों द्वारा सामूहिक बलात्कार किया गया जिस पर जिला इकाई के साथ हमने पत्रकार बन्धुओं के साथ जानकारी ली और समाचार पत्रों में प्रकाषित होने के बाद भी अभी तक गिरफ्तारी नहीं हुयी है। लखीमपुर में विगत माह रामदयाल की 15 वर्षीय पुत्री का अपहरण हुआ जिस पर मा0 मुख्यमंत्री (सन्दर्भ संख्या-12153180220826) को पत्र लिखकर अभियुक्तों की गिरफ्तारी की मांग की थी न तो अभी तक गिरफ्तारी हुयी और न ही लडकी बरामद हुयी बल्कि मुख्यमंत्री के सन्दर्भ से मुझे जवाब मिला की मामले को निस्तारित कर दिया गया है। लखनऊ के मनोज सिंह के साथ ठगी करने वाले लोगो को पुलिस संरक्षण दे रही है और मा0 मुख्यमंत्री (सन्दर्भ संख्या-12157180223631) से षिकायत करने पर कोई कार्यवाही नहीं हुयी। 
श्री सिंह ने कहा कि उ0प्र0 की उपरोक्त ज्वलंत समस्याओं के निराकरण हेतु उ0प्र0 सरकार जो अपने पत्र के माध्यम से आष्वासन दे चुकी है उक्त सन्दर्भ में महामहिम का भी ध्यान हम आकर्षित करेंगे साथ ही साथ शासनादेष की अवहेलना कर नोएडा में तैनात डाॅ0 शेखर यादव डेढ माह पूर्व प्रतिनियुक्ति समाप्त कर तत्काल प्रभाव से स्थानान्तरण सहारनपुर हुआ था लेकिन अब शासन के आदेष की कोई भी गम्भीरता कार्यपालिका में नहीं हैं। मा0 सर्वोच्च न्यायालय के उस फैसले का भी स्वागत है जिसमें 1984 के दंगों में दोषी लोगों को सजा मिली उस दंगों में मारे गये लोगों को न्याय दिलाने के लिए तथा पंजाब समस्या को लेकर हमने अमृतसर से लेकर दिल्ली तक शान्ति यात्रा के माध्यम से न्याय दिलाने की मांग की थी जो न्याय देर से मिला। 
श्री सिंह ने कहा कि विधान सभा का सत्र प्रारम्भ हो चुका है हम सत्ता में नहीं है लेकिन विरोध पक्ष विषेष पक्ष होता है जो जनहित के सवालों पर समय समय पर सरकार का ध्यान आकर्षित करता है उन राजनैतिक दलों के राष्ट्रीय व प्रान्तीय नेताओं के पत्रों के उत्तर व सन्दर्भ की गम्भीरता समाप्त हो रही है। इस पर हम संगठित आन्दोलन चलाकर सरकार की जनविरोधी नीतियों के खिलाफ संगठित आन्दोलन चलाने का काम करंेेगे। 
 

    (सुरेन्द्रनाथ त्रिवेदी)
प्रदेश प्रवक्ता